मॉनसून सत्र के पहले दिन लोकसभा के 24 सांसद कोरोना पॉजिटिव मिले

भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी, अनंत कुमार हेगड़े, प्रवेश साहिब सिंह समेत लोकसभा के 24 सांसद कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। कोरोना वायरस की वजह से मॉनसून सत्र देरी के साथ आज से शुरू हुआ है। इस सत्र में शामिल होने के लिए सभी सांसदों का अनिवार्य रूप से कोरोना जांच कराई गई थी।

इससे पहले, रविवार को कोरोना जांच में पांच लोकसभा सांसद कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। संसद में उन्हीं सांसदों, कार्मिकों को जाने की इजाजत दी गई है, जिनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव है।

मॉनसून सत्र के पहले दिन लोकसभा के सदस्यों ने राज्यसभा में बैठकर सदन की कार्यवाही में हिस्सा लिया। सदन में सदस्यों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हर सीट के आगे प्लास्टिक शील्ड कवर लगाया गया है। सदन में बैठने की बदली हुई व्यवस्था के बीच कई सदस्यों को उनके स्थान तक पहुंचने में लोकसभा कर्मी मदद करते भी दिखे।

लोकसभा चैम्बर में करीब 200 सदस्य मौजूद थे तो लगभग 50 सदस्य गैलेरियों में थे। लोकसभा चैम्बर में ही एक बड़ा टीवी स्क्रीन लगाया गया है जिसके माध्यम से राज्यसभा चैम्बर में बैठे लोकसभा के सदस्य भी नजर आ रहे थे।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस महामारी के बीच सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने के लिए सदस्यों को लोकसभा चैम्बर, गैलरियों के साथ ही राज्यसभा के चैंबर में भी बैठाया गया है।

785 सांसदों में से लगभग 200 लोग 65 वर्ष से अधिक आयु के हैं, जिनमें जनसंख्या सबसे ज्‍यादा कोरोना वायरस की चपेट में है। इससे पहले कम से कम सात केंद्रीय मंत्रियों, लगभग 25 सांसदों और विधायकों को कोरोना अपनी चपेट में ले चुका है। एक सांसद और कई एमएलएएस की संक्रामक बीमारी के कारण मृत्यु हो गई है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को भी कोरोना हुआ था, हालांकि वह ठीक हो चुके हैं।

भारी सुरक्षा उपायों के बीच संसद का सत्र आयोजित किया जा रहा है, जिसमें दोनों सदनों में सांसदों के बैठने के बीच उचित दूरी का ध्‍यान रखा गया है। उपस्थिति दर्ज करने के लिए एक मोबाइल ऐप का प्रयोग किया जा रहा है और और सीटों को पॉली-कार्बन शीट से अलग किया गया है। आमतौर पर छह सदस्यों के बैठने वाली बेंच में केवल तीन सांसदों के बैठने की व्‍यवस्‍था की गई है।

मानसून सत्र शुरू होने से पहले सभी सांसदों से COVID-19 परीक्षण करने का अनुरोध किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *