भारत में तैयार हो गये हैं दो देसी वैक्सीन, चूहों और खरगोशों के बाद अब इंसानों पर हो रहा है परीक्षण

New Delhi : कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण के बीच देश को एक बड़ी विजय प्राप्त हुई है और वह यह कि कोरोना मरीजों के उपचार के लिए दो वैक्सीन तैयार कर लिए गए हैं, चूहों एवं खरगोशों पर इसका रिसर्च सफल हो गया है, अब इसका इंसानो पर भी जाँच शुरू हो गया है, Indian Council of Medical Research ने मंगलवार को इस बात की जानकारी दी है, उसने बताया कि कोरोना वायरस के लिए 2 देशी वैक्सीन का जाँच निरन्तर आगे बढ़ रहा है, चूहों एवं खरगोशों पर इनकी टॉक्सिसिटी अध्ययन कर लिए गए हैं।

ICMR के डायरेक्टर डॉ बलराम भार्गव ने बताया कि अध्ययन के आंकड़े देश के ड्रग कंट्रोलर General of india के पास भेज दिए गए हैं, जहां से दोनों टीकों का मनुष्य पर जाँच करने की इजाजत मिल गयी है, उन्होंने कहा कि इसी माह हमें इंसानों पर पहला चरण के जाँच की इजाजत मिल गयी, दोनों वैक्सीन के लिए जाँच की तैयारी हो चुकी है और दोनों के लिए लगभग 1-1 हजार लोगों पर इसकी डायग्नोस्टिक अध्ययन भी हो रहा है।

भार्गव ने कहा कि दुनिया में उपयोग होने वाले 60 प्रतिशत वैक्सीन भारत में बनते हैं, यह बात दुनिया के हर देश जानते हैं, इसलिए संसार के प्रत्येक देश देश के संपर्क में हैं, उन्होंने कहा कि रूस ने भी वैक्सीन बनाने की प्रगति तेज कर दी है और उसे पहले चरणों में सफलता भी मिली है, रूस वैक्सीन डेवलप्ड करने में तेजी लाया है।

आगे उन्होंने कहा कि इसके साथ ही, चीन भी वैक्सीन तैयार करने में जोर-शोर से लगा हुआ है, वहां टीकों पर बड़ी तेजी से अध्ययन किए जा रहे हैं, उन्होंने कहा कि USA में भी दो वैक्सीन पर काम तेजी से हो रहा है, इसके अतिरिक्त, इंग्लैंड का ऑक्सफर्ड विश्वविद्यालय भी वैक्सीन पर तेजी से काम बढ़ाने की ओर पुरोगामी है, वह इन वैक्सीन्स का ह्यूमैन ट्रायल के लायक बनाने को लेकर काम कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *