काशी व मथुरा से हटे मस्जिद, हिंदुओं की सुरक्षा पर बने कानून : अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद

 

PRAYAGRAJ: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की ओर से सोमवार को मठ बाघम्बरी गद्दी में मीटिंग आयोजित की गई । जिसमें मुस्लिम समुदाय से काशी व मथुरा को मुक्त करके माफी मांगने की मांग की है। ऐसा न होने पर अखाड़ा परिषद कानूनी लड़ाई लड़ेगा। इस दौरान मीटिंग में कुल आठ प्रस्ताव पास किए गए। अध्यक्षता कर रहे परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि द्वादश ज्योतिìलग में शामिल काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर व मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि से अविलंब मस्जिद हटाई जाय।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ संग मिलकर लड़ेंगे कानूनी लड़ाई

अखाड़ा परिषद की मीटिंग के दौरान काशी व मथुरा को मुक्त कराने के मुद्दे पर परिषद मुस्लिम धर्मगुरुओं से बात करके सामंजस्य स्थापित करेगा। बात न बनने पर अखाड़ा परिषद कोर्ट में याचिका दाखिल करके कानूनी लड़ाई लड़ेगा। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, विश्व हिंदू परिषद सहित समस्त हिंदू संगठनों को साथ लेकर लड़ाई लड़ी जायेगी। वहीं मीटिंग में श्रीमहंत राजेंद्र दास ने हरिद्वार के कनखल में निर्वाणी अनी, निर्मोही अनी व दिगंबर अनी अखाड़ों को भूमि से बेदखल करने की कार्रवाई को उठाया। इस पर परिषद के महामंत्री महंत हरि गिरि ने कहा कि उत्तराखंड सरकार कनखल में तीनों अनियों को जमीन दे।

जरूरी कदम उठाकर आयोजित हो माघ मेला

परिषद के महामंत्री महंत हरि गिरि ने कहा कि प्रयागराज में माघ मास में संगम तीरे जप-तप की परंपरा प्राचीनकाल से चल रही है। कोरोना संक्रमण के कारण माघ मेला स्थगित न किया जाय। संतों व कल्पवासियों का शिविर दूर-दूर लगे। भीड़ रोकने के लिए धार्मिक संस्थाओं पर पाबंदी लगाने की मांग की। महंत धर्मदास ने प्रयागराज में पंचक्रोसी परिक्रमा की परंपरा पुन: आरंभ करने पर जोर दिया। सारे प्रस्ताव प्रधानमंत्री, यूपी व उत्तराखंड के मुख्यमंत्री को कार्रवाई के लिए भेजे जायेंगे। बैठक में महंत प्रेम गिरि, श्रीमहंत नारायण गिरि, महंत सत्य गिरि, महंत जमुना पुरी आदि शामिल रहे।

लव जेहादियों पर हो कड़ी कार्रवाई

अखाड़ा परिषद ने लव जेहाद करने वालों के सख्त कार्रवाई की सिफारिस की। उन्होंने कहा कि ऐसा करना अक्षम्य अपराध है। इस प्रकार के कार्य में लिप्त लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिये।

हिंदुओं की सुरक्षा पर बने कानून

अखाड़ा परिषद ने कहा कि मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में हिंदू असुरक्षित है। देश में ऐसे अनेक शहर हैं जहां हिंदू अल्पसंख्यक हैं, उनकी सुरक्षा के लिए केंद्र सरकार से कड़ा कानून बनाए। महंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि कोरोना संक्रमण से लड़ने, कानून-व्यवस्था बनाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निष्पक्ष व सराहनीय काम किया है।

महात्माओं की हत्या की सीबीआई जांच की मांग

अखाड़ा परिषद ने महाराष्ट्र के पालघर में जूना अखाड़ा के महात्माओं को पीट-पीटकर मार डालने के बाद हो रही कार्रवाई पर असंतोष व्यक्त किया है। परिषद ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई नहीं कर रही है, उक्त घटना की सीबीआई जांच होनी चाहिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *