बिरसा मुंडा समझ किसी और की प्रतिमा पर फूल चढ़ाने पहुंच गए अमित शाह! TMC ने साधा निशाना

केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा नेता अमित शाह गुरुवार को जब बंगाल पहुंचे, तो उन्होंने सबसे पहले आदिवासी बहुल इलाके बांकुरा में स्वतंत्रता सेनानी बिरसा मुंडा की प्रतिमा के दर्शन किए। यहां उन्होंने मूर्ति पर फूल भी चढ़ाए। हालांकि, उनके कार्यक्रम पर विवाद खड़ा हो गया है। दरअसल, शाह पहले जिस मूर्ति पर फूल चढ़ाने जा रहे थे, वह बिरसा मुंडा की जगह एक दूसरे आदिवासी नेता की थी। बाद में कार्यक्रम स्थल पर मौजूद नेताओं ने शाह को रोका और बिरसा मुंडा की तस्वीर मंगवाकर उसे मूर्ति के पैरों के नीचे रखकर उस पर माला चढ़ाई गई।

अमित शाह दो दिनों के बंगाल दौरे पर हैं. दौरे के पहले दिन गुरुवार को उन्होंने आदिवासी बहुल बांकुड़ा में स्वतंत्रता सेनानी बिरसा मुंडा की प्रतिमा पर फूल चढ़ाए थे.

गौरतलब है कि आजादी की लड़ाई में बिरसा मुंडा की 25 साल की उम्र में हत्या कर दी गई थी. टीएमसी ने अमित शाह की तस्वीर के साथ ट्वीट कर लिखा, ‘एक बार फिर से बाहरी. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बंगाल की संस्कृति को लेकर इतने अनजान हैं कि उन्होंने भगवान बिरसा मुंडा की जगह किसी दूसरी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर दिया और उस प्रतिमा के पैर के नीचे उनकी तस्वीर रख दी. क्या वह कभी बंगाल का सम्मान कर पायेंगे?’

शुक्रवार की सुबह टीएमसी के नेता बिरसा मुंडा की मूर्ति के पास पहुंचे. उन्होंने दूध और गंगा जल से मूर्ति का शुद्धिकरण किया. दूसरी ओर, प्रदेश भाजपा के महासचिव सायंतन बसु ने टीएमसी के दावे को खारिज करते हुए कहा कि बीजेपी को टीएमसी से संस्कृति नहीं सीखनी होगी. बांकुड़ा में केंद्रीय गृह मंत्री ने बिरसा मुंडा की तस्वीर पर भी फूल चढ़ाए थे. अमित शाह की लोकप्रियता से घबराई टीएमसी लोगों में भ्रम पैदा करने की कोशिश कर रही है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *