Arnab Goswami Arrested : इंटीरियर डिजाइनर को खुदकुशी के लिए उकसाने का है आरोप, बोले- मुझे मुंबई पुलिस ने पीटा

*Arnab Goswami Arrested : इंटीरियर डिजाइनर को खुदकुशी के लिए उकसाने का है आरोप, बोले- मुझे मुंबई पुलिस ने पीटा

मुंबई : न्यूज चैनल रिपब्लिक टीवी (Republic TV) के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. गोस्वामी पर एक इंटीरियर डिजाइनर और उनकी मां को सुसाइड के लिए उकसाने का आरोप है. पुलिस ने अर्नब को उनके घर से गिरफ्तार किया और थाने लेकर आई. इस बीच अर्नब गोस्वामी ने पुलिस पर अपने साथ मारपीट का आरोप लगाया है. रिपब्लिक टीवी ने उनके घर के लाइव फुटेज भी दिखाए, जिसमें पुलिस और अर्नब के बीच झड़प होती दिख रही है. बता दें कि अर्नब गोस्वामी पहले ही टीआरपी स्कैम में घिरे हैं.

अर्नब गोस्‍वामी को हिरासत में लिए जाने पर राजनीति भी शुरू हो गई है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर इसे प्रेस की स्‍वतंत्रता पर हमला करार दिया है। उन्‍होंने ट्वीट किया, ‘मुंबई में प्रेस-पत्रकारिता पर जो हमला हुआ है वह निंदनीय है। यह इमरजेंसी की तरह ही महाराष्ट्र सरकार की कार्यवाही है। हम इसकी भर्त्सना करते हैं। सोनिया गांधी और राहुल गाँधी के नेतृत्व में काम कर रही कांग्रेस अभी भी आपातकालीन मनस्तिथि में है। इसी का सबूत आज महाराष्ट्र में उनकी सरकार ने दिखाया है। लोग ही इसका लोकतांत्रिक जवाब देंगे।’


अर्णब गोस्वामी की गिरफ्तारी की एडिटर्स गिल्ड ने की निंदा

संपादकों की संस्था एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने अर्णब गोस्वामी के गिरफ्तारी की कड़ी निंदा की है। गिल्ड ने कहा है कि हम अर्नब गोस्‍वामी की गिरफ्तारी की निंदा करते है। साथ ही महाराष्ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि गोस्वामी के साथ उचित व्यवहार किया जाए। मीडिया द्वारा महत्वपूर्ण रिपोर्टिंग के खिलाफ राज्य शक्ति का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए।

ये है इंटीरियर डिजाइन आत्‍महत्‍या मामला

अर्नब गोस्‍वामी को जिस मामले में हिरासत में लिया गया है, वो दरअसल साल 2018 का है। अलीबाग में 53 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक और उनकी मां कुमुद नाइक ने मई 2018 में आत्महत्या कर ली थी। तब पुलिस को जांच करते हुए घटनास्थल से एक सुसाइड नोट मिला था। इस सुसाइड नोट में कथित तौर पर कहा गया कि अर्नब गोस्वामी और दो अन्य लोगों ने उन्हें 5.40 करोड़ रुपये की बकाया राशि का भुगतान नहीं किया। इस कारण उनकी आर्थिक स्थिति बिगड़ गई। अब आत्‍महत्‍या करने के अलावा उनके पास कोई दूसरा रास्‍ता नहीं है, इसलिए वो ये कदम उठा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *