बिहार में कोरोना विस्फोट , 2192 नए पॉजिटिव मिले, आज 6 की मौत

पटना : राज्य में 2192 नए कोरोना संक्रमित मिले। इनमें 26 जुलाईं को 812, 25 जुलाईं को 1048 और 24 जुलाईं व इसके पूर्व 332 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान शामिल है। इसके साथ ही बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 41,111 हो गई। जबकि सोमवार को छह कोरोना संक्रमितों की इलाज के दौरान मौत हो गयी। इसके साथ ही कोरोना पीड़ितों की मौत की संख्या बढ़कर 255 हो गयी। इसके साथ ही राज्य में कोरोना संक्रमित 27,844 स्वस्थ हो चुके हैं। राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों के स्वस्थ होने की दर 67.73 फीसदी है।

पिछले 24 घंटे में 1536 संक्रमित मरीज स्वस्थ हुए
पिछले 24 घंटे में राज्य में 1536 संक्रमित मरीज स्वस्थ हो गए और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी। डाक्टरों ने उन्हें तत्काल 7 दिनों के लिए होम क्वारंटीइन में रहने की सलाह दी। राज्य में अबतक 27 हजार 844 संक्रमित मरीज स्वस्थ हो चुके है। जबकि बिहार में वर्तमान में 13 हजार 11 एक्टिव मरीज है।

एक दिन में हुई 14,236 सैम्पल की जांच
बिहार में पिछले 24 घंटे में 14,236 सैम्पल की जांच की गई। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राज्य में अबतक 4 लाख 70 हजार 560 सैम्पल की जांच की जा चुकी है। कोरोना की जांच की व्यवस्था एंटीजेंन किट के माध्यम से प्राथमिक चिकित्सा केंद्र तक की गई है। इससे राज्य में जांच का दायरा बढ़ गया है।

पटना में 15 दिन में 500 बेड का कोरोना अस्पताल बनेगा
पटना में 15 दिनों के भीतर 500 बेड का अस्पताल बनकर तैयार हो जाएगा। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए रक्षा मंत्रालय ने यह निर्णय लिया है। इसको लेकर रविवार को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) की एक उच्चस्तरीय टीम ने वेटनरी कॉलेज परिसर व बिहटा का निरीक्षण किया।हाल में बिहार में कोरोना संक्रमण काफी तेजी से फैला है, इसीलिए डीआरडीओ यहां पहल कर रहा है। टीम ने मुजफ्फरपुर का भी दौरा किया। अधिकारियों का कहना है कि वहां भी एक अस्पताल बनाने का प्रस्ताव है।

बिहार में कोरोना संक्रमण का दायरा बढ़ा, 4 गुना बढ़े कोविड- 19 संक्रमित
बिहार में कोरोना संक्रमण का दायरा बढ़ा है, किंतु यहां कोरोना संक्रमितों के ठीक होने की दर भी बेहतर है। बड़ी संख्या में संक्रमितों की पहचान हो रही है और उसी तरह बड़ी संख्या में संक्रमित कोरोना को मात भी दे रहे हैं। बिहार में 22 जून को कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 7893 थी, जो 22 जुलाई को बढ़कर 30,066 हो गई। इस तरह एक माह में लगभग चार गुना संक्रमित बढ़ गए। साथ ही एक माह में तीन गुना से अधिक मरीज ठीक भी हो चुके हैं। 22 जून तक संक्रमितों के ठीक होने की संख्या 5767 थी , जो 22 जुलाई को बढ़कर 19876 हो चुकी है। बिहार में स्वस्थ होने की दर 67.52 फीसदी है, जबकि राष्ट्रीय औसत 63 फीसदी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *