Bihar Election 2020: Covid-19 के कारन नहीं रोके जा सकते बिहार विधानसभा विधानसभा चुनाव: सुप्रीम कोर्ट

Bihar Assembly Election 2020: बिहार में कोरोना प्रकोप और बाढ़ की हालात के मद्देनजर बिहार विधानसभा चुनाव 2020 पर रोक लगाने के लिए दायर याचिका को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में खारिज कर दी गई।सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि बिहार विधानसभा चुनाव कोरोना के कारन टालने का कोई आधार नहीं बन सकता. हम कोरोना की वजह से इसे नहीं टाल सकते. इस मामले में चुनाव आयोग (Election commission) ही सब कुछ फैसला लेगी. जनहित याचिका में सुप्रीम कोर्ट से बिहार के कोरोना और बाढ़ से पूरी तरह मुक्त होने तक चुनाव के लिए अधिसूचना जारी नहीं करने का निर्देश चुनाव आयोग को देने का अपील किया गया था.

केस में सुनवाई कर रही पीठ ने कहा कि ‘कोरोना के आधार पर चुनावों को टाला नहीं जा सकता, खासकर तब जब चुनाव आयोग की तरफ से कोई अधिसूचना ही जारी नहीं की गई है. यह अदालत चुनाव आयुक्त को नहीं बता सकती कि उन्हें क्या करना है, वो खुद इन मामलों पर विचार करेंगे.

याचिकाकर्ता ने जोर देकर कहा कि जनप्रतिनिधित्व कानून कहता है कि असाधारण परिस्थितियों की पृष्ठभूमि में चुनाव कैंसिल किए जा सकते हैं, इसपर पीठ ने जवाब दिया कि यह फैसला चुनाव आयोग को करना है ना कि अदालत को. बेंच ने दोहराया कि वह चुनाव आयोग को चुनाव नहीं कराने का निर्देश दे सकती है. याचिकाकर्ता ने जोर देकर कहा कि मानव जीवन सर्वोपरि है न कि चुनाव, क्योंकि लोग कोरोनोवायरस संक्रमण के कारण पीड़ित हैं. पीठ ने कहा कि वह चुनाव टालने का आदेश नहीं दे सकती और निर्वाचन आयोग सारी परिस्थितियों को ध्यान में रखकर ही निर्णय करेगा. याचिकाकर्ता ने सुप्रीम कोर्ट से चुनाव आयोग और राज्य में जमीनी हालात के संबंध में राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण से एक रिपोर्ट मांगी. बेंच ने कहा कि चुनाव आयोग हालात का ध्यान रखेगा और इस तरह कोई रिट लागू नहीं की जा सकती. केस पर संक्षिप्त सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने याचिका खारिज कर दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *