Bihar Elections 2020 : तेजस्वी ने सीएम नितीश से पूछा- बेरोजगारी पर बात करने में शर्म क्यों आती है ?

बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने गुरुवार को ट्वीट कर एक बार फिर सूबे की एनडीए सरकार पर तीखा हमला बोला है। तेजस्वी ने कहा कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार बेरोज़गारी के मुद्दे को लेकर बात करने से डरते क्यों है? उन्होंने कहा कि क्या बिहार को बेरोज़गारी का मुख्य केंद्र बनाने के बाद भी नीतीश कुमार को शर्म नहीं आती है? क्या सीएम नीतीश कुमार नौकरियों में धांधली व बिहार के उद्योग-धंधों को ठप्प करवाने के बाद भी युवाओं को भ्रमित कर एवं उन्हें और जयदा ठगना चाहते हैं? डबल इंजन सरकार ने बिहार को बेरोज़गारी का केंद्र बना दिया.” बता दें कि पहली बार देश में लगे लॉकडाउन के दौरान से ही तेजस्वी यादव बिहार के बेरोजगारों को लेकर नीतीश सरकार को लगातार घेर रहे हैं।

करोड़ों युवाओं को नौकरी देने का वादा था यहां तो नौकरियां छिनी जा रही है। बिहार में सबसे अधिक बेरोज़गारी है। राजद विधायक ने नौकरियों में भेदभाव के लगाये आरोप औरंगाबाद जिले की बरौली विधानसभा सीट से राजद विधायक मोहम्मद नेमतुल्लाह ने भी बिहार में व्याप्त बेरोजगारी को लेकर ट्वीट के माध्यम से बिहार सरकार को घेरा है। विधायक ने कहा कि बिहार को बेरोजगारी व अपराध का मुख्य केंद्र बनाने वाले नीतीश कुमार और सुशील मोदी जवाब दे ? बिहार के युवाओं के साथ हर नौकरी में भेदभाव क्यों किया जा रहा है? सूबे में बेरोजगारी व्याप्त क्यों है? उन्होंने कहा कि सूबे की नौकरियों में धांधली क्यों हो रही हैं? वहीं विधायक ने सारी नौकरियां केवल नालंदा जिला के लिये ही होने का आरोप लगाया है। इसके अलावा विधायक ने प्रधानमंत्री से बिहार में रोजगार उपलब्ध करवाने की अपील की है। Bihar Elections 2020 : तेजस्वी ने सीएम नितीश से पूछा- बेरोजगारी पर बात करने में शर्म क्यों आती है ?

बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने गुरुवार को ट्वीट कर एक बार फिर सूबे की एनडीए सरकार पर तीखा हमला बोला है। तेजस्वी ने कहा कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार बेरोज़गारी के मुद्दे को लेकर बात करने से डरते क्यों है? उन्होंने कहा कि क्या बिहार को बेरोज़गारी का मुख्य केंद्र बनाने के बाद भी नीतीश कुमार को शर्म नहीं आती है? क्या सीएम नीतीश कुमार नौकरियों में धांधली व बिहार के उद्योग-धंधों को ठप्प करवाने के बाद भी युवाओं को भ्रमित कर एवं उन्हें और जयदा ठगना चाहते हैं? डबल इंजन सरकार ने बिहार को बेरोज़गारी का केंद्र बना दिया.” बता दें कि पहली बार देश में लगे लॉकडाउन के दौरान से ही तेजस्वी यादव बिहार के बेरोजगारों को लेकर नीतीश सरकार को लगातार घेर रहे हैं।

करोड़ों युवाओं को नौकरी देने का वादा था यहां तो नौकरियां छिनी जा रही है। बिहार में सबसे अधिक बेरोज़गारी है। राजद विधायक ने नौकरियों में भेदभाव के लगाये आरोप औरंगाबाद जिले की बरौली विधानसभा सीट से राजद विधायक मोहम्मद नेमतुल्लाह ने भी बिहार में व्याप्त बेरोजगारी को लेकर ट्वीट के माध्यम से बिहार सरकार को घेरा है। विधायक ने कहा कि बिहार को बेरोजगारी व अपराध का मुख्य केंद्र बनाने वाले नीतीश कुमार और सुशील मोदी जवाब दे ? बिहार के युवाओं के साथ हर नौकरी में भेदभाव क्यों किया जा रहा है? सूबे में बेरोजगारी व्याप्त क्यों है? उन्होंने कहा कि सूबे की नौकरियों में धांधली क्यों हो रही हैं? वहीं विधायक ने सारी नौकरियां केवल नालंदा जिला के लिये ही होने का आरोप लगाया है। इसके अलावा विधायक ने प्रधानमंत्री से बिहार में रोजगार उपलब्ध करवाने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *