क्राइम की रेट-लिस्ट का पोस्टर वायरल, हजार रुपए में धमकी, 55 हजार में हत्या, संपर्क के लिए नंबर भी किया जारी

*पोस्टर पर चश्मा पहने एक लड़के की फोटो मौजूद, मोबाइल नंबर भी जारी किया
*एसएसपी ने कहा- पोस्ट का मेरठ लिंक नहीं, मगर वायरल करने वालों पर केस दर्ज किया जाएगा

सोशल मीडिया पर हत्या की सुपारी और धमकी की रेट लिस्ट वाला एक पोस्टर वायरल हो रहा है. इसमें काला चश्मा लगाए एक आदमी की तस्वीर बनी हुई है. नीचे ‘जोंटी बदमाश’ नाम लिखा हुआ है. सबसे ऊपर लिखा है- बंदे कूटने के लिए संपर्क करें, सभी हथियार हमारे होंगे. फिर रेट लिस्ट दी है. इसके मुताबिक, किसी को धमकी देने के 1000 रुपए लगेंगे, कुटाई के 5000, घायल करने के दस हज़ार और मारने के 55 हज़ार. एक फोन नंबर भी लिखा है पोस्टर में.

ट्विटर पर लोगों ने इसे शेयर किया. कुछ ने इसे मेरठ से जुड़ा मामला बताया. यूपी पुलिस से जोंटी बदमाश के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की अपील की. दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष अनिल चौधरी ने भी ट्वीट कर सीएम योगी पर कटाक्ष किया. लिखा-

और क्या लिखी हैं पोस्ट में बातें
पोस्ट में लिखा है कि बंदे कूटने के लिए संपर्क करें। इसके लिए बकायदा 9660799329 नंबर जारी किया गया है। धमकी देने के 1000 रुपए, कुटाई करने के लिए 5000 रुपए, घायल करने के लिए 10000 रुपये, और हत्या करने के लिए 55 हजार रुपए का रेट दिया गया है। यह भी लिखा गया है कि सभी हथियार हमारे होंगे। देसी कट्टा भी पास रखते हैं। जमीन कब्जे के मसले भी हल करते हैं।

मेरठ से इस पोस्टर का कोई लिंक नहीं
इस प्रकरण में एसएसपी अजय साहनी का कहना है कि जांच में पाया गया है कि जो नंबर पोस्टर पर है, उसका मेरठ या आसपास से कोई लिंक नहीं है। जिन लोगो ने ये वायरल किए हैं, उनपर मुकदमा लिख कर उचित कार्रवाई की जाएगी।

फिर कैसे अभी वायरल हुई तस्वीर

SSP अजय साहनी ने बताया कि हाल ही में ये तस्वीर मेरठ के व्यापारियों के एक वॉट्सऐप ग्रुप में किसी आदमी ने डाली थी. अजय साहनी ने कहा कि पोस्टर में दिखने वाले आदमी का मेरठ से कोई लेना-देना नहीं है. और जो नंबर पोस्टर में दिया गया है, वो जांच में राजस्थान का पाया गया.

मेरठ का बताकर किसने वायरल किया था

उस्मान चौधरी की रिपोर्ट के मुताबिक, पहले इस मामले में पूर्व विधायक विनोद हरित के बेटे श्रीकांत का नाम सामने आ रहा था. लेकिन विनोद हरित ने 12 अक्टूबर को भ्रामक खबर वायरल करने के मामले में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ केस दर्ज करवाया. फिर पुलिस ने जांच की, तो पता चला कि ये पोस्टर पिछले एक साल से सोशल मीडिया पर वायरल है और इसे श्रीकांत ने नहीं बनाया है, बल्कि होशियार सिंह नाम के आदमी ने इसे मेरठ में वायरल किया है. होशियार सिंह खुद को फर्स्ट न्यूज़ 24×7 से संबंधित बताता था.

जांच में ये भी सामने आया कि न्यूज़ चैनल के एमडी ने काफी समय पहले ही होशियार को चैनल से निकाल दिया था. इस मामले में पुलिस ने आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है और होशियार की गिरफ्तारी कर ली गई है.

वहीं, हमने भी जब सोशल मीडिया पर जोंटी बदमाश वाला पोस्टर सर्च किया, तो कई सारे पोस्ट अक्टूबर 2019 के दिखाई दिए. अब चूंकि मेरठ पुलिस ने ये मामला राजस्थान के गंगानगर का बताया है, तो हमने वहां के भी पुलिस अधिकारियों से बात करने की कोशिश की. लेकिन कई बार कॉल लगाने के बाद भी बात नहीं हो सकी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *