भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर हुआ 1 लाख के पार, तेजी से बढ़ रहा मरने वालों का आंकड़ा

नई दिल्ली : देश में कोरोना महामारी से होने वाली मौतों की संख्या शुक्रवार को 1 लाख को पार कर गई है। यह एक ऐसा आंकड़ा है जिससे दुनिया का हर देश दूर रहना चाहेगा। आपको बता दें कि भारत में सात महीने पहले कोरोना का पहला मामला दर्ज किया गया था, इसके बाद आज हम दुनिया में संक्रमित मरीजों की संख्या के मामले में दूसरे स्थान पर हैं।

भारत एक लाख से अधिक कोरोना रोगियों को मारने वाला तीसरा देश बन गया है। भारत अमेरिका (2,12,000 मौतें) और ब्राजील (1,44,000 मौतें) से आगे है। हालांकि, इन दोनों देशों की तुलना में भारत में कोरोना की मृत्यु दर बेहद कम है। भारत में ‘वायरस केस डेथ रेट’ (सीएफआर) 1.56 प्रतिशत है, जो वैश्विक औसत (2.98 प्रतिशत) का आधा है। वहीं, यह अमेरिका (2.84 फीसदी) और ब्राजील (2.99 फीसदी) से बेहतर है।

सितंबर के पहले सप्ताह से, भारत में प्रति दिन कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या पूरी दुनिया में सबसे अधिक रही है। पिछले कुछ हफ्तों में, कोरोना के कारण भारत में औसतन 1,065 लोगों ने अपनी जान गंवाई। वहीं, अमेरिका में यह संख्या 755 और ब्राजील में 713 थी।

भारत में कोरोना से सबसे ज्यादा रिवकरी

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में 78,877 मरीज स्वस्थ हुए हैं, जिसके साथ ही अब तक कोरोना मुक्त होने वालों की संख्या 53 लाख 52 हजार 78 हो गई है। सक्रिय मामले बढ़कर 9 लाख 42 हजार 217 हो गये हैं।

दक्षिण के पांच राज्यों तमिलनाडु, कनार्टक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और केरल में कोरोना वायरस महामारी से कुल 26,356 लोगों की मौत हुई है जो कि देशभर में इस बीमारी से मरने वालों का 26.41 प्रतिशत है। तमिलनाडु में अब तक 9586, कनार्टक में 8994, आंध्रप्रदेश में 5869, तेलंगाना में 1,135 और केरल में 772 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है जबकि देशभर में कोरोना से 99,773 लोगों की मौत हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *