सीतामढ़ी : देवर ने भाभी से महिला थाने में रचाई शादी, एक साल से चल रहा था दोनों का अफेयर

सीतामढ़ी : एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसने सबको हैरान कर दिया है. दरअसल सीतामढ़ी पुलिस ने एक बड़ा मिसाल पेश किया है. पुलिस ने महिला थाने में ही देवर की शादी उसकी भाभी से कराई है. जिनका अफेयर पिछले से साल से चल रहा था. पुलिस की इस पहल की सराहना जिले भर में की जा रही है. आइये जानते हैं कि ऐसा क्यों हो रहा है.
। थाना परिसर में शिवजी के मंदिर में दोनों ने सात फेरे लिए। पंडित जी ने विधि-विधान से ब्याह संपन्न कराया। बराती के साथ पुलिसकर्मी भी इस शादी में शामिल हुए। सभी लोगों ने वर-वधु को आशीर्वाद दिया और शादी की बधाई दी ।

बड़े भाई की बिजली करंट से एक साल पहले मौत के बाद देवर और भाभी एक-दूसरे के साथ रह रहे थे। मगर, शादी के नाम पर देवर कन्नी काटने लगा तो महिला ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। गांव के लोग महिला के साथ खड़े हो गए। महिला थाना प्रभारी ने मामले में हस्तक्षेप कर देवर को शादी के लिए रजमांद किया। आखिरकार, थाने में ही शादी की रसम रिवाज पूरी हुईं।

महिला थाना प्रभारी ने बताया कि देवर-भाभी परसौनी थाने के मदनपुर वार्ड नंबर-5 के रहने वाले हैं। संतोष सहनी पिता चंद्र सहनी के बड़े भाई की मौत हो गई थी । पांच साल पहले शादी हुई थी। उसका सालभर का एक बेटा है। मौत के बाद देवर अपनी भाभी रंजीता देवी के साथ पति-पत्नी के तरह रहने लगा। रंजीता का घर नेपाल के बेलवा जबदी गांव में है। वह बिंदेश्वर सहनी की बेटी है। इस शादी के लिए ससुराल और मायके वाले दोनों तैयार थे। मगर, संतोष शादी से मना कर रहा था। मामला थाने पहुंचा तो हमने दोनों से बातचीत करके समझौता करा दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *