Independence Day 2020 : प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने लॉन्च किया नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन, क्या है इसकी सुविधाएं?

देश मई फैली कोरोना महामारी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस के शुभ अवसर पर लाल किले कि प्राचीर से तिरंगा फेहराया और साथ ही देश को संबोधित भी किया। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मोदी ने देशवाशियों के लिए डिजिटल हेल्थ मिशन को शुरू करने का ऐलान किया। पीएम के इस मिशन के तहत एक बड़े क्रांति लेकर आएगी।

मोदी ने कहा कि इस मिशन से देश में नया आंदोलन शुरू होने जा रहा है और वो है डिजिटल हेल्थ मिशन। हर तरह का टेस्ट,कोई भी बीमारी, किस डॉक्टर ने कौन सी दवा दी, कब दी है ,आपकी रिपोर्ट किया थी इस तरह के सभी जानकारी आपको इसी NDHM कार्ड में होगी ।

1 . इस मिशन के तहत डॉक्टर की डिटेल्स के साथ देशभर में स्वास्थ्य सेवाओं की जानकारी एक ऐप पर उपलब्ध होगी।
2 . सब से पहले आपको इस ऐप को डाउनलोड करना पड़ेगा, उसके बाद अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा, जिसके बाद आपको एक हेल्थ ID मिलेगा।
3 . इससे होने वाले ट्रिटमेंट और टेस्ट की पूरी जानकारी डिजिटली सेव करनी होगी ताकि इसका रिकॉर्ड रखा जा सकेगा।
4 . पहले कि तरह अब आपको डॉक्टर के पास इलाज कराने जाएंगे तो साथ में आपको सारे पेपर्स और टेस्ट रिपोर्ट नहीं ले जानी पड़ेगी।
क्यूंकि इनसब कि जानकारी आपके हेल्थ ID कार्ड में ही होगा।
5 . डॉक्टर कहीं पे भी हो वो आपकी साड़ी जानकारी आपकी यूनिक ID के जरिए सारा मेडिकल रिकॉर्ड देख सकेगा।

पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर कहा कि आज भारत में कोराना की तीन वैक्सीन्स इस समय टेस्टिंग के चरण में हैं। देश की तैयारी उन वैक्सीन्स की बड़े पैमाने पर प्रोडक्शन की भी तैयारी है। आज देश में 1,400 से ज्यादा लैब्स हैं।आगे उन्होंने कहा कि देश को लोकल को वोकल होना होगा इसके लिए देश को आत्मनिर्भर बनना होगा। आखिर कब तक हमारे देश से कच्चा माल ,finished product बन कर भारत में लौटता रहेगा। आत्मनिर्भर भारत का मतलब सिर्फ आयत कम करना ही नहीं बल्कि हमारी छमता, हमारी Creativity, हमारी स्किल्स को बढ़ाना भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *