India-China Tension: भाजपा संसद ने चीनी रक्षा मंत्री से राजनाथ की मुलाकात पर उठाए सवाल,कहा- भारी गलती की

New Delhi: पूर्वी लद्दाख में सीमा पर तनाव के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defense Minister Rajnath Singh) और चीन के रक्षा मंत्री वेई फेंग (Defense Minister Wei Feng) के बीच हुई मीटिंग को लेकर BJP के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanyam Swami) ने भारी गलती करार दिया है. सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि हमारे रक्षा मंत्री को चीनी रक्षा मंत्री से मिलने का निर्णय अकेले नहीं करना चाहिए था. स्वामी ने कहा है कि ये फैसला सबको मिलकर करना चाहिए था. उन्होंने कहा कि ये बड़ी गलती है.

आपको बता दें कि रूस (Rusia) की राजधानी मॉस्को (Moscow) में चल रहे शंघाई सहयोग संगठन की बैठक में शुक्रवार यानी 4 Sep को राजनाथ सिंह ने चीनी रक्षा मंत्री वेई फेंघे से लंबी बातचीत की. ये मीटिंग लगभग 2 घंटे 20 मिनट तक चली. इस मीटिंग में भारत और चीन के हालिया तनाव, पैंगोंग झील इलाके से चीनी सेना की वापसी समेत सिमा पर स्थिति को सामान्य करने के मसले पर बातचीत हुई. इंडिया ने इस बैठक में चीन को दो टूक कहा कि हमें सिमा पर जिम्मेदारी का एहसास है, लेकिन अपनी बॉर्डर और संप्रभुता रक्षा करने के हमारे संकल्प पर किसी को तनिक भी संदेह नहीं करना चाहिए.

वहीं, इस मुलाकात को लेकर BJP राज्यसभा सांसद स्वामी ने कहा है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को चीनी विदेश मंत्री से अकेले मिलने का निर्णय नहीं लेना चाहिए था. स्वामी ने कहा, “हमारे अच्छे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को चीनी रक्षा मंत्री से मीटिंग करने को लेकर अकेले दम पर फैसला नहीं लेना चाहिए था, चाहे चीनी मंत्री उनसे मिलना क्यों न चाह रहे हों. ये एक सामूहिक फैसला होना चाहिए था. मेरी निजी राय है कि मैं अपने चीन के ज्ञान के आधार पर कह सकता हूं कि चीनी रक्षा मंत्री से मिलना बड़ी गलती थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *