देखिए कैसे भारतीय सैनिकोंं ने आतंकी को सरेंडर के लिए किया मजबूर, देखें वीडियो

बड़गाम जिले के चदौरा इलाके में शुक्रवार को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराया है जबकि एक आतंकी को एके-47 रायफल के साथ गिरफ्तार किया है। फिलहाल मुठभेड़ अभी समाप्त हो गई है। सुरक्षाबलों ने क्षेत्र में अन्य आतंकियों की आशंका के चलते तलाशी अभियान जारी रखा हुआ है।। इस घटना को जम्मू-कश्मीर में मिलिटेंसी के इतिहास में पहली बार कैमरे पर लाइव कैद किया गया। सेना, पुलिस और CRPF ने गोलाबारी के दौरान सबसे अधिक संयम बरता और नए शामिल हुए स्थानीय मिलिटेंट जहांगीर अहमद भट को AK47 राइफल और गोला-बारूद के साथ जिंदा पकड़ लिया।

आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि लश्कर आतंकवादी जहांगीर सुरक्षा बलों पर लगातार गोलीबारी कर रहा था और उसने पूरी तरह से AK47 राइफल मैग्जीन का इस्तेमाल किया है। गनफाइट के दौरान एक और आतंकवादी सुनसान जगह और गोलीबारी का फायदा उठाते हुए मौके से भागने में कामयाब हो गया। लेकिन इस दौरान ऑपरेशन में संयम बरतते हुए सेना ने आत्मसमर्पण के लिए आतंकी को उचित मौका दिया और उनकी जान बचाई।

सूत्रों के अनुसार 20 साल का जहांगीर एक हफ्ते पहले लापता हो गया था और वह लश्कर-ए-तैयबा में शामिल हो चला गया था। जहांगीर को ज़िंदा पकड़ने के बाद उसके माता-पिता को अपने बेटे से मिलने के लिए भी बुलाया गया था, अब जहांगीर को आगे की प्रक्रिया के लिए पुलिस के साथ रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *