IPL 2020: स्पोंसरशिप की दौड़ से पतंजलि बाहर, टाटा सब से आगे, आज हो सकता है ऐलान

देश और दुनिया में फैली कोरोना महामारी के बीच IPL का 13वां संस्करण UAE में खेला जायेगा जिसकी अनुमति भी भारत सरकार ने दे दी है। इंडियन प्रीमियर लीग का 13वां संस्करण 19 सितंबर से शुरू होने वाला हो जिसमे बहुत सारे बदलाव देखने को मिलेंगे। चीनी कंपनी VIVO काफी लम्बे समय तक IPL का स्पोंसरशिप कर रहा था लेकिन अब VIVO IPL का स्पोंसरशिप से बाहर हो चूका है। अब IPL के लिए नए स्पोंसरशिप की जरूरत है जिसके दौड़ में बहुत सारी कंपनियां सामने आई है। आज BCCI नए IPL के लिए स्पोंसरशिप का एलान कर सकती है।

IPL के लिए नए स्पोंसरशिप की दौड़ में योगगुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि मजबूत दावेदार माना जा रहा था। लकिन अब स्पोंसरशिप की दौड़ से पतंजलि बाहर हो चुकी है। बाबा रामदेव का कहना है की पतंजलि तभी स्पॉन्सरशिप के लिए आगे आएगी जब कोई दूसरी भारतीय कंपनी इस दौड़ में न होती। बाबा ने उन सभी मीडिया रिपोर्ट्स का भी खंडन किया, जिसमें बाबा की कंपनी के बोली लगाने का दावा किया गया था।

IPL के लिए नए स्पोंसरशिप की दौड़ में टाटा एक प्रबल दावेदार माना जा रहा है। हालांकि बोर्ड ने पहले ही ये साफ़ कर दिया था की जिस कंपनी का सालाना टर्नओवर 300 करोड़ रुपये से ज्यादा हो वही स्पोंसरशिप के लिए आगे आ सकता है। हालांकि बायजूस और अनअकैडमी भी रेस में लेकिन टाटा एक भारतीय कंपनी है इसलिए इसे मजबूत दावेदार माना जा रहा है।

आपको बतादें इस स्पोंसरशिप की दौड़ में रिलायंस जियो, फैंटसी स्पोर्टस कंपनी ड्रीम 11, टाटा और COCA COLA जैसी दिग्गज कंपनियां शामिल है। कोरोना महामारी के कारण इस बार स्पॉन्सरशिप की रकम 100 करोड़ रुपये कम की है।

भारत में कोरोना महामारी के बढते मामलों को देखते हुए सरकार ने पिछले सप्ताह IPL को UAE में कराये जाने की मंजूरी दे दी है। 19 sep से मैच शुरू होने हैं जिसके लिए ज्यादातर टीमें 20 अगस्त के बाद रवाना होंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *