कोरोना संक्रमण से बचने के लिए 50 से अधिक बच्चों को पिला दी देसी शराब, वीडियो वायरल

कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के अब तक कोई वैक्सीन या टीका नहीं बन सका है। ऐसे में इस इस बीमारी से बचने के लिए लोग तरह-तरह के उपाय अपना रहे हैं। ऐसा ही एक मामला ओडिशा के मलकानगिरी से सामने आया है। कोरोना बीमारी से बचने के लिए बच्चों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ किया गया है। इन बच्चों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए 10-12 वर्ष के मासूम बच्चों को शराब पिला दी गई है। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है जिसे लोग कड़ी निंदा कर रहे हैं।

मलकानगिरी में 10-12 साल के 50 से ज्यादा बच्चों को कुछ गांव वालों ने कोरोना महामारी से बचाने के लिए देसी शराब पिला दी। इस देसी शराब का नाम सालपा है। ग्रामीणों ने इन बच्चों को शराब इस लिए पिलाई क्यूंकि इनका मानना है की शराब के सेवन से बच्चों में कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सकता है।

मामला मलकानगिरी जिले के पड़िया ब्लॉक के परसनपाली गांव का है। वायरल वीडियो में आप देख सकते हैं कि 50 से अधिक बच्चों को लाइन में बिठाकर किस तरह से उन्हें शराब पिलाई जा रही है। ना चेहरे में मास्क और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन। सोशल मीडिया पर घटना का वीडियो वायरल होने के बाद बवाल हो गया। इन हरकतों से च्चों की जान जोखिम में डालना किसी भी तरह से सही नहीं है। शराब का सेवन करना शरीर के लिए हानिकारक होता है। बाल रोग विशेषज्ञ डॉ अरिजीत महापात्र के मुताबिक शराब के सेवन से कोरोना के इलाज पर विश्वास करना बेतुका है। शराब न तो निवारक है और न ही कोई इलाज है। इसके साथ ही बच्चों को शराब देना भी जुर्म है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *