मुस्लिम मरीज का नहीं करेंगे इलाज’, वायरल हुआ WhatsApp चैट, वायरल होने पर जांच के आदेश

राजस्थान के चुरू जिले में एक निजी हॉस्पिटल के स्टाफ द्वारा कथित रूप से वॉट्सऐप चैट इन दिनों खूब वायरल हो रहा है। स्टाफ द्वारा कथित रूप से वॉट्सऐप चैट के स्क्रीनशॉट खूब वायरल हो रहा है जिसमे मुस्लिम मरीजों का इलाज न करने की चर्चा की गयी है। दरअसल ये चैट WhatsApp ग्रुप में हॉस्पिटल के एक स्टाफ द्वारा किया गया था जिसमे मुस्लिम मरीजों का इलाज न करने की बात हुई थी।

आपको बतादे ये घटना राजस्थान के चुरू जिले में एक निजी हॉस्पिटल श्रीचंद बारादिया रोग निदान केंद्र का है। बीते शनिवार को हॉस्पिटल के प्रमुख डॉक्टर सुनील चौधरी ने इस घटना पर सफाई देते हुए आरोपों से इनकार किया है। पुलिस के मुताबिक इस ग्रुप चैट पर हॉस्पिटल के प्रमुख डॉक्टर सुनील चौधरी की धर्म पत्नी भी शामिल है। सुनील चौधरी की धर्म पत्नी भी पेशे से एक डॉक्टर है। हालांकि चौधरी की धर्म पत्नी इन आरोपों से साफ़ तौर से इनकार किया है।

क्या बात हुई थी WhatsApp ग्रुप में जो आग की तरह वायरल हुआ

इस वायरल WhatsApp चैट में किसी एक ने लिखा की ,”कल मैं मुस्लिम मरीज का X – Ray नहीं करूंगा ये मेरी शपथ है। एक ने लिखा ,” ‘मुस्लिम मरीजों को देखना ही बंद करवा दो। दूसरे ने लिखा के ,”मुस्लिम डॉक्टर होते तो हिंदुओं को कभी नहीं देखते। OPD में नहीं देखुंगी मुस्लिम मरीज। कह देना मैडम उपस्थित नहीं है।

पुलिस का कहना है की शिकायत मिलते ही मामले की जांच शुरू कर दी गई है , लेकिन अब तक कोई प्राथमिक दर्ज नहीं किया गया है। सरदार शहर पुलिस स्टेशन के सब इंस्पेक्टर रमेश पन्नु ( SI Ramesh Pannu ) ने कहा की दो दिन पहले ही इस वायरल चैट के ScreenShot से सम्बंधित शिकायत मिली। जिसमे हॉस्पिटल के स्टाफ के बीच कथित WhatsApp ग्रुप चैट थी जो एक विशेष धर्म के खिलाफ है। हालांकि ये सारी बात लॉकडाउन के वक़्त की है। पुलिस इसकी छान बीन में जुटी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *