NCP अध्यक्ष शरद पवार बोले,भारत का सबसे बड़ा दुश्मन चीन, पाकिस्तान से ज्यादा इस पर ध्यान देना चाहिए

मुंबई: चीन के साथ मौजूदा तनाव के बीच, राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि चीन पाकिस्तान की तुलना में भारत के लिए बड़ा खतरा है। पूर्व रक्षा मंत्री ने कहा कि चीन की सेना भारत से 10 गुना ज्यादा है और उसने कहा भारत के पड़ोसि देश को अपने तरफ कर लिया है। उन्होंने कहा कि केंद्र को बातचीत और कूटनीति के जरिए चीन पर वैश्विक दबाव बनाने की कोशिश करनी चाहिए।

पवार ने शिवसेना के समाचार पत्र ‘सामना’ के साथ एक साक्षात्कार में कहा, “जब हम दुश्मन के बारे में सोचते हैं, तो हमारे दिमाग में सबसे पहला नाम पाकिस्तान का आता है, लेकिन हमें पाकिस्तान के बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं है। लंबे समय से देख सकते है की चीन के पास भारत के हितों के खिलाफ कार्रवाई करने की ताकत , सोच और प्रोग्राम है। चीन भारत का बहुत बड़ा दुश्मन है। उन्होंने कहा कि चीन भारत के लिए एक वास्तविक खतरा है जो आर्थिक रूप से भी मजबूत है।

पिछले महीने लद्दाख की गालवां घाटी (Galvan Vally) में चीनी और भारतीय सैनिकों के बीच लड़ाई के बारे में पूछे जाने पर पवार ने कहा, जब मैं कहता हूं कि इस मसले पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए इस इसका मतलब यह है कि हम चीन पर हमला कर सकते हैं। लेकिन हमले की हालात मे पूरे देश को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। NCP नेता ने कहा कि हमले की जगह हमें बातचीत और कूटनीतिक माध्यमों से चीन पर अंतरराष्ट्रीय दबाव बनाने की कोशिश करनी चाहिए शरद पवार ने कहा कि चीन ने न सिर्फ पाकिस्तान बल्कि नेपाल, बांग्लादेश और श्रीलंका जैसे देशों को भी भारत के खिलाफ कर दिया है। जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहली बार पीएम बने बने थे तो वो पशुपतिनाथ मंदिर में प्रार्थना करने के लिए नेपाल गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *