रोते हुए युवती को पुलिसकर्मी राशिद खान ने किया मदद, किया रक्तदान, खूब हो रही है प्रशंसा

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर (Shahjahanpur) में पुलिस ने इंसानियत की मिसाल कायम की है। दरअसल एक युवती रोते हुए पुलिस के पास मदद मांगने पहुंची थी। इस युवती की बात सुनकर पुलिस ने मदद का हाथ आगे बढ़ाया। आल्हागंज कोतवाली पहुंची 17 साल के बीमार युवती ने नम आंखों से प्रभारी निरीक्षक को बताया कि सर, मेरे पापा को पकड लो, मैं करीब 15 दिनों से लगातार बीमार चल रही हूं। मेरा इलाज जिला हॉस्पिटल शाहजहांपुर से चल रहा है। जहां डॉक्टर ने मुझमें रक्त की कमी बताते हुए बी पॉजिटिव ब्लड चढ़वाने के लिये बताया है। मैंने अपने पापा नन्हे से कई बार खून देने के लिए कहा लेकिन वो देने को तैयार नहीं है। रक्त न मिल पाने और बीमारी के कारण वो बहुत कमजोर होती जा रही है। यदि वक्त पर उसको खून नही मिला तो उसके साथ कुछ भी हो सकता। इसके बाद यह मामला एसपी एस आंनद (SP S Anand) के पास पहुंचा। उन्होंने मामले को गंभीरता से लेते हुए तुरंत ही युवती को खून की इंतेज़ाम करवाने की हर संभव प्रयास करने के निर्देश दिए। जिसके बाद थाने में तैनात पुलिसकर्मियों से उनके ब्लड ग्रुप की जानकारी मांगी गई।


इस बीच आरक्षी राशिद खान (Rashid Khan) ने बताया कि उनका ब्लड ग्रुप भी बी पॉजिटिव (B Positive) है और वह युवती को खून देकर उसकी सहायता करना चाहते हैं। युवती ने और उनके परिजन वालों ने खून दान करने के लिए राशिद खान और पूरे पुलिस विभाग (Police Department) को शुक्रिया कर कहा है कि पुलिस विभाग और आरक्षण की कारन उनकी बेटी की जान बच गई है। सोशल मीडिया (Social Media) पर यह खबर जज्बाती खाकी नाम के ट्विटर अकाउंट पर शेयर की गई है। जिस पर लोग पुलिस के इस पहलू को देखकर भावुक प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। लोग पुलिस कर्मी के इस कदम के लिए उनकी हौसला अफ़ज़ाई कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *