हाथरस जाने से रोका कांग्रेस का काफिला, गुस्साईं प्रियंका बोलीं-‘गुस्सा चढ़ता है मेरी भी 18 साल की बेटी है

हाथरस : उत्तर प्रदेश के हाथरस में गैंगरेप का शिकार हुई युवती को इंसाफ दिलाने के लिए देशभर में गुस्सा है। युवती की मौत के बाद जिस तरह उसका पुलिस द्वारा अंतिम संस्कार कर दिया गया, उसपर कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं। देश के विभिन्न राजनीतिक दलों ने इस मामले को लेकर योगी सरकार पर निशाना साध रहे हैं। इसी बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा आज पीड़िता के परिवार से मिलने हाथरस के लिए रवाना हुए हैं। इसी को लेकर दिल्ली- नोएडा बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है तो वहीं हाथरस प्रशासन ने भी दोनों नेताओं के जिले में प्रवेश को लेकर सीमाएं सील कर दी हैं। प्रशासन ने जिले में धारा 144 लगा दी है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि ऐसी घटनाओं पर गुस्सा चढ़ता है, मेरी 18 साल की बेटी है. हर महिला को गुस्सा चढ़ना चाहिए. हमारे हिंदू धर्म में कहां लिखा है कि अंतिम संस्कार परिवार के बिना हो.

प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि प्रदेश की सुरक्षा के लिए मुख्यमंत्री जिम्मेदार है, हर रोज प्रदेश में रेप की घटनाएं हो रही हैं. सरकार की ओर से सख्त कार्रवाई नहीं की जा रही है. आप हिंदू धर्म के रखवाले हैं, आपने ये स्थिति बना दी है कि एक पिता अपनी बेटी की चिता नहीं जलवा पा रहे हैं.

राहुल-प्रियंका का हल्ला बोल
आपको बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी इस काफिले के साथ हैं और पैदल ही मार्च की अगुवाई कर रहे हैं. कांग्रेस के हजारों कार्यकर्ताओं को गुरुवार दोपहर को डीएनडी पार करते हुए यूपी में घुसे, लेकिन बाद में सभी के काफिले को रोक दिया गया था.

गौरतलब है कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के हाथरस पहुंचने से पहले ही जिले की सीमाओं को सील कर दिया गया है, साथ ही धारा 144 लगा दी गई है. समाजवादी पार्टी की ओर से भी हाथरस की सीमा पर प्रदर्शन किया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *