संकट में राजस्थान सरकार, सीएम अशोक गहलोत ने विधानसभा के सभी सदस्यों को जयपुर बुलाया, कहा- अगर किसी का फोन बंद आता है तो…

Jaipur: राजस्थान में सत्ताधारी कांग्रेस सरकार के लिए संकट के बादल गहराते जा रहे हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपने आवास पर कांग्रेस विधायकों और मंत्रियों से मुलाकात कर रहे हैं। कांग्रेस के सदस्यों और मंत्रियों के साथ मुख्यमंत्री की बैठक सुबह 10 बजे से चल रही है। कांग्रेस सरकार के सभी मंत्रियों और सदस्यों को अपने निर्वाचन क्षेत्रों को छोड़कर जयपुर पहुंचने के लिए कहा गया है। जिस के लिए भी मुमकिन है, वह मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलने के लिए CM निवास पहुंचे।

राजस्थान के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास के मुताबिक, कैबिनेट बैठक में मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि यदि किसी विधायक या मंत्री का फोन स्विच ऑफ है या उसे नहीं मिल रहा है, तो चिंता न करें, आप जाकर उससे संपर्क करें । सरकार को बचाने की जिम्मेदारी सभी की है।

प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि CM अशोक गहलोत दिल्ली गए विधायक के संपर्क में हैं। सचिन पायलट हमारे प्रदेश अध्यक्ष हैं। अगर कोई विधायक उनके साथ गया है, तो इसका मतलब यह नहीं है कि अशोक गहलोत के खिलाफ गए हैं। CM ने उनमें से अधिकांश से बात की है। हालांकि, BJP सरकार को उखाड़ फेंकने में व्यस्त है लेकिन CM हालात पर नजर बनाए हुए हैं।

प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि BJP लगातार पैसे को लेकर संपर्क कर रही है। लेकिन कामयाब नहीं हो रहे हैं। इस बीच, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजस्थान पुलिस के विशेष अभियान समूह को कांग्रेस विधायकों, सीएम और डिप्टी सीएम को नोटिस भेजकर स्पष्टीकरण दिया है।मुख्यमंत्री गहलोत ने ट्वीट किया, ‘कांग्रेस विधायक दल ने एसओजी से भाजपा नेताओं द्वारा खरीद-फरोख्त की जो शिकायत की थी उस संदर्भ में मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, चीफ व्हिप और अन्य कुछ मंत्रियों व विधायकों को सामान्य बयान देने के लिए नोटिस आए हैं। कुछ मीडिया संस्थानों द्वारा उसको अलग ढंग से प्रस्तुत करना उचित नहीं है।

बता दें कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जयपुर में अपनी सरकार का बचाव करने में व्यस्त हैं, वहीं उपमुख्यमंत्री एम सचिन पायलट दिल्ली में हैं। कहा जा रह है कि उनके साथ विधानसभा के कुछ सदस्य हैं जो पार्टी आलाकमान से मिलना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *