सोनू पंजाबन को नाबालिग से देह व्यापार मामले में मिली 24 साल की कैद, सहयोगी संदीप को 20 साल की कैद

दोषी गीता अरोड़ा उर्फ सोनू पंजाबन को दिल्ली की द्वारका कोर्ट में बच्ची के अपहरण, मानव तस्करी मामले में 24 साल की कैद की सजा सुनाई है। सोनू पंजाबन के सहयोगी संदीप को 20 साल कैद की सजा सुनाई है। इन दोनों दोषियों पर जुर्माना भी लगाया भी लगाया है।

गीता अरोड़ा उर्फ सोनू पंजाबन और इसके सहयोगी संदीप को 12 साल की बच्ची के अपहरण, देह व्यापार और वेश्यावृत्ति के मामले में दिल्ली की द्वारका कोर्ट ने अल्लाह अलग अलग धाराओं के साथ सजा सुनाई है। सोनू पंजाबन को IPC की धारा 328, 342, 366ए, 372, 373 और 120बी के तहत 24 साल की कैद और साथ ही 64 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है। सभी सजाएं एक साथ चलेंगी।

सहयोगी संदीप बेदवाल को IPC की धारा 363, 366, 366ए, 372, 120बी और 376 के तहत अलग अलग अवधि की सजा सुनाई है। संदीप को अधिकतम 20 सालों तक जेल में रहना होगासाथ ही 65 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है। इसकी भी सभी सजाएं एक साथ चलेंगी।

पुलिस के अनुसार ये मामला सितंबर साल 2009 का है। पहले पीड़ित लड़की संदीप के प्यार के जाल में फंस गई फिर संदीप उस लड़की के साथ बलात्कार किया। पहले संदीप लड़की के साथ दुष्कर्म किया फिर सीमा आंटी के नाम से मशहूर महिला को बेच दिया था। सीमा ने पीड़ित लड़की को वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेल दिया। सीमा ने लड़की को सोनू पंजाबन के पास बेच दिया। यहां तक उस लड़की को देह व्यापार भी कराया जाता था और किसी के पास भेजने से पहले उसे नशे का इंजेक्शन भी दिया जाता था। लड़की ने किसी तरह इस जंगल से भाग निकली और इसकी शिकायत 9 फरवरी साल 2014 को नजफगढ़ थाने की पुलिस से की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *