अमेरिका की ओर तेजी से बढ़ रहा ईसाइयास तूफान, अलर्ट जारी

चक्रवात ‘इसायस’ ने शनिवार को बहामास में जमकर तबाही मचाई जिससे पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए और अब यह फ्लोरिडा तट की ओर बढ़ गया है जिससे उन स्थानों पर कोरोना वायरस को नियंत्रण में करने के प्रयास और जटिल हो गए हैं जहां मामले बढ़ रहे थे। इसायस शनिवार दोपहर को तूफान से उष्णकटिबंधीय तूफान में तब्दील हो गया लेकिन इसके फ्लोरिडा में पहुंचने तक रातभर में फिर से तूफान का रूप लेने की आशंका है।

फ्लोरिडा के गवर्नर रोन डीसैंटीज ने एक संवाददाता सम्मेलन में आगाह किया, ”हमें आज रात से असर देखने को मिलने लगेगा। इसके कमजोर होने के धोखे में मत आईए।” फ्लोरिडा प्रशासन ने समुद्र तटों, पार्कों और वायरस जांच केंद्रों को बंद कर दिया है। गवर्नर ने कहा कि राज्य में बिजली की कटौती की संभावना है और उन्होंने निवासियों से एक हफ्ते के लिए पानी, भोजन और दवाओं का प्रबंध करने के लिए कहा। नॉर्थ कैरोलाइना में अधिकारियों ने ओक्राकोक द्वीप को खाली कराने का आदेश दिया है जहां पिछले साल तूफान डोरियन ने तबाही मचाई थी।

इस बीच बहामास में अधिकारियों ने अबाको द्वीप में ऐसे लोगों के मद्देनजर शिविर खोल दिए हैं जो डोरियन के तबाही मचाने के बाद से अस्थायी आशियानों में रह रहे थे। तूफान के रविवार सुबह तक फ्लोरिडा के दक्षिणपूर्व तट तक पहुंचने का अनुमान है। इसके सोमवार तक तूफान बने रहने की आशंका है और उसके बाद यह धीरे-धीरे कमजोर पड़ेगा।

तूफान के बावजूद स्पेसएक्स और नासा की रविवार दोपहर डाउग हर्ले और बॉब बेनकेन को कंपनी के ड्रैगन कैप्सूल में मैक्सिको की खाड़ी में उतारने की योजना है। फ्लाइट कन्ट्रोलर्स चक्रवात इसायस पर करीब से नजर रख रहे हैं, जिसके फ्लोरिडा के पूर्वी तट पर आने की आशंका है और जहां उन्हें उतारने की योजना है वह स्थान फ्लोरिडा के करीब है

हाल ही में टेक्‍सास के तटीय इलाकों में समुद्री तूफान हन्‍ना ने भारी तबाही मचाई थी। तटीय इलाकों में मूसलाधार बारिश के साथ तीव्र गति की हवाओं ने यहां के जनजीवन को पूरी तरह से ठप कर दिया था। इस तूफान की हवा की रफ्तार इतनी तेज थी कि उसकी रफ्तार से सड़कों पर खड़े ट्रेक्‍टर और ट्रेलर पलट गए थे। बिजली के पोल उखड़ कर कहीं दूर जा गिरे थे। कई विशाल पेड़ उखड़कर जमीन पर आ गए थे। यही नहीं अमेर‍िका मेक्सिको सीमा की मजबूत दीवार के कई हिस्‍से हवा झोंके और भारी बारिश से गिर गए थे। हन्‍ना के चलते पोर्ट मैन्‍सफीन्‍ड में गन्‍ने के हरभरे खेत उजड़ गए थे। तूफान के चलते 283,000 घरों और व्‍यवसायिक प्रतिष्‍ठान की बिजली गुल हो गई थी और वह अंधरे में डूब गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *