सैयद उजमा परवीन को पुलिस ने घर में किया नजरबंद, लखनऊ के घंटा घर पर झंडा फहराने जा रही थीं

लखनऊ: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राजधानी के क्लॉक टॉवर (Clock Tower) पर झंडा फहराने जा रहे सैयद उज्मा परवीन (Syed Uzma Parveen) को घर में नजरबंद रखा गया है। वह राजधानी की पुलिस द्वारा नजरबंद है। पुलिस ने कहा कि किसी को भी पूर्व इजाजत के बिना सार्वजनिक जगहों पर झंडा फहराने की इजाजत नहीं दी जा सकती। सैयद उजमा परवीन ने CAA और NRC के खिलाफ क्लॉक टॉवर में विरोध-प्रदर्शन किया था. उनको अरेस्ट भी किया गया था।

मिली जानकारी के मुताबिक, डीसीपी (पश्चिम) उत्तमनाथ त्रिपाठी (Uttamnath Tripathi) ने कहा कि किसी भी शख्स को बिना इजाजत के सार्वजनिक जगहों पर झंडा फहराने से मना किया गया है, यहां तक ​​कि जो लोग ऐसा कर रहे थे, उन्हें भी समझाया गया। वहीं, सैयद उज़मा परवीन ने कहा कि वह स्वतंत्रता दिवस पर CAA और NRC से आज़ादी पाने के लिए घंटा घर पर झंडा फहराने जा रही थीं। उनके साथ कुछ महिलाएं भी थीं। वहीं, सैयद उज़मा परवीन ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) पर तिरंगा नहीं फहराना संवैधानिक अधिकारों का हनन है। कहा कि मैं अपने देश से बहुत प्यार करता हूं। देश में रहने वाले हर शख्स को उसकी स्वतंत्रता का हक मिलना चाहिए, चाहे वह CAA या NRC हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *