भारत-चीन के बीच कभी भी शुरू हो सकती है युद्ध, हाई अलर्ट मोड में एयर फाॅर्स

NEW DELHI : भारत चीन के बीच परेशानी बढ़ती ही जा रही है, अब तक देश वार्तालाप के जरिये हल निकालने की प्रयास करता रहा है, लेकिन अब चीनी के योजना को ख्याल में रखते हुए इंडियन एयर फाॅर्स लद्दाख, उत्तरी सिक्किम, उत्तराखंड एवंअरुणाचल प्रदेश में एलएसी के साथ सभी इलाकों में बेहद अलर्ट मोड़ में आ चुकी है, चीन के साथ सीमा गतिरोध को लेकर ”संतोषजनक” सुलझाव समीप आने तक इंडियन आर्मी हाई अलर्ट पर है यानी कभी भी जंग के लिए तैयार है।

थलसेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे पहले ही LAC के साथ सीमावर्ती संरचनाओं के प्रचालन की देख -रेख कर रहे सेना के सभी वरिष्ठ कमांडरों को आदेश दे चुके हैं कि वे बेहद उच्च स्तर की सावधानी बरतें और चीनी के किसी भी ”दुस्साहस” से भिड़ने के लिए अनियंत्रित रुख अपनाएं, गतिरोध के मद्देनजर बीतें तीन सप्ताह में सेना प्रमुख ने 3,500 किमी लंबी एलएसी की निगरानी करने वाले वरिष्ठ कमांडरों के साथ लंबी एवं विस्तृत बात चित की हैं।

नरवणे ने बृहस्पतिवार को तेजपुर मौजूद चौथी कोर के मुख्यालय में पूर्वी कमान के वरिष्ठ कमांडरों के साथ विस्तृत विचार-विमर्श किया था, एयर फाॅर्स के उप प्रमुख एयर मार्शल एचएस अरोड़ा ने शुक्रवार को लद्दाख में वायुसेना के कई आश्रय का निरक्षण किया और सेना की परिचालन तैयारियों का जायजा लिया, गलवान घाटी में हुई झड़प के बाद वायुसेना ने अग्रिम पंक्ति के अपने करीब सभी लड़ाकू विमानों को पूर्वी लद्दाख एवं LAC सीमा इलाकों में तैनात किया है, इंडियन आर्मी ये मानकर चल रही है कि कभी भी जंग आरम्भ हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *