हम बीजेपी विरोधी हैं, देश विरोधी नहीं, यह हमारी पहचान की लड़ाई है:  फारूक अब्दुल्ला

जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए एक गठबंधन बन गया है। इसमें कई दल एक जुट होकर राज्य में आर्टिकल 370 वापस लाने की मांग कर रहे हैं। इस अलायंस की एक बैठक के दौरान फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि हम बीजेपी विरोधी हैं, देश विरोधी नहीं।

राष्ट्र विरोधी नहीं है ये अलायंस

बता दें कि ‘पीपुल्स एलायंस’ की ये बैठक महबूबा मुफ्ती के घर पर हुई। इसमें नेशनल कॉन्फ्रेंस, पीडीपी के अलावा कई पार्टियां शामिल हुई। इस दौरान फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि यह अलायंस राष्ट्र विरोधी नहीं है। हम सिर्फ ये सुनिश्चित करना चाहते हैं कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों को उनका अधिकार मिले। उन्होंने कहा कि ये धार्मिक लड़ाई नहीं है। इसलिए कोई भी हमें धर्म के नाम पर नहीं बांट सकता।

उन्होंने कहा, ‘मैं आपको बताना चाहता हूं कि यह (पीएजीडी) एक देश विरोधी जमात नहीं है. हमारा लक्ष्य है कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों के अधिकार सुनिश्चित हों. यही हमारी लड़ाई है, हमारी लड़ाई इससे ज्यादा के लिए नहीं है.’

अब्दुल्ला ने कहा कि भाजपा जम्मू और देश के अन्य हिस्सों में पीएजीडी में शामिल घटकों के खिलाफ दुष्प्रचार कर रही है.

उन्होंने कहा, ‘वे धर्म के नाम पर हमें (जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों को) बांटने की कोशिश कर रहे हैं. यह प्रयास सफल नहीं होगा. यह धार्मिक लड़ाई नहीं है, यह हमारी पहचान की लड़ाई है और उस पहचान के लिए हम एक साथ खड़े हैं.’

महबूबा मुफ्ती ने दिया था विवादित बयान

इससे पहले महबूबा मुफ्ती ने तिरंगे को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि जब तक हमारा झंडा हमें वापस नहीं मिलेगा, तब तक हम तिरंगा नहीं फहराएंगे। उन्होंने कहा कि हमारे झंडे से ही तिरंगे के साथ हमारे संबंध स्थापित होते हैं।

महबूबा मुफ्ती ने कहा कि चीन ने हमारी 1000 वर्ग किमी जमीन पर कब्जा किया। लेकिन हम 40 किमी जमीन वापस ले आए। आज चीन भी आर्टिकल 370 और जम्मू कश्मीर के बारे में बात करता है। वो हमारे लिए आवाज उठाता है और सरकार से सवाल करता है। आर्टिकल 370 हटाने के बाद अंतर्राष्ट्रीय तौर पर हमारी काफी चर्चा हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *