Yes बैंक ने अनिल अंबानी के मुंबई हेडक्वार्टर पर कब्जा किया, मुश्किलें बढ़ी

Mumbai: अनिल अंबानी (Anil Ambani) की रिलायंस ग्रुप के मुख्यालय पर निजी सेक्टर के यस बैंक (Yes Bank) ने अपना कब्ज़ा जमा लिया है। प्राइवेट क्षेत्र के यस बैंक ने 2,892 करोड़ रुपये का बकाया कर्ज नहीं चुकाने की कारन अनिल अंबानी की रिलायंस ग्रुप के उपनगर सांताक्रूज के हेडक्वार्टर (Headquarters) को अपने कब्जे में ले लिया है। YES बैंक की तरफ से बुधवार को दिए गए नोटिस के मुताबिक बैंक ने रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर (Reliance Infrastructure) द्वारा बकाए का भुगतान नहीं करने के चलते मुंबई (Mumbai) के दो फ्लैटों का कब्जा भी अपने हाथ में ले लिया है।

YES बैंक ने जिस इमारत को अधिग्रहित किया है वह 21000 वर्गफीट में बनी हुई है। यहां पहले बॉम्बे सबअर्बन इलेक्ट्रिक सप्लाई लिमिटेड (BSES) का मुख्यालय था, जिसका अधिग्रहण रिलायंस ने दो दशक पहले किया था। यह इमारत वेस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे पर स्थित है। BSES को अधिग्रहण के बाद इसे रिलायंस एनर्जी (Reliance Energy) नाम दिया गया।

YES BANK ने कहा कि उसने 6 मई को रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर को 2,892.44 करोड़ रुपये का बकाया चुकाने का नोटिस दिया था। 60 दिन के नोटिस के बावजूद रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर समूह बकाया नहीं चुका पाया। जिसके बाद 22 जुलाई को उसने तीनों संपत्तियों का कब्जा ले लिया। बैंक ने आम जनता को आगाह किया है कि वह इन संपत्तियों को लेकर किसी तरह का लेनदेन नहीं करे। आप को बता दें की अनिल अंबानी के नेतृत्व वाला रिलायंस ADAG समूह Yes Bank के सबसे बड़े कर्जदारों में से एक है। बैंक का रिलायंस ADAG के लिए 12,000 करोड़ से ज्यादा का बकाया है। बता दें कि यस बैंक पर कर्ज बांटने में कई तरह की अनियमितताएं बरती गई हैं। यस बैंक भी दिवालिया होने की स्थिति में पहुंच गया थाा, लेकिन सरकार ने बेलआउट पैकेज के तहत इसकी सहायता की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *